Machine Learning Kya Hai ?

Machine Learning kiya hai ? आज के इस आर्टिकल में Machine Learning algorithms के वो सब कॉन्सेप्ट को जान पाओगे जो सायद पहले से आपको पता है। इस आर्टिकल को सुरु से लेके आखरी तक जरूर पढ़े ताकि Machine Learning के बारे में हर एक जानकारी आपको अच्छे से और सही तरह से समझ में आ सके।

Machine Learning kiya hai

सीधी तरह से बताऊँ तो आजकल के मशीने भी इंसान के तरह सीखता है यानि Machine Learning एक ऐसा प्रक्रिया है जहाँ कोई भी कंप्यूटर याफिर मशीने यूजर के activity को समझते हुए डाटा कलेक्ट करता है और उस हिसाब से यूजर को दोबारा वही सरे डाटा provide करता है जो यूजर को चाहिए होता है और इसी concept को Machine Learning कहा जाता है। चलिए में आपको एक exmple देके और भी आसान तरीके से समझाता हूँ ..

example 1- अपने कभी न कभी यूट्यूब में सर्च करके कुछ न कुछ देखा ही होगा जैसे मानलो अपने यूट्यूब में Jalshamoviez pw 720p Movies Download in Best in Quality  सर्च किया और आपके मन पसंद के अनुसार कोई भी मूवी देखने लगा तब यह सरे जानकारी यूट्यूब ने आपके डाटा को कोलेटक्ट कर लिया है और सिख लिया की आपको किस तरह की वीडियो चाहिए होता है तो दूसरी बार आप कभी भी यूट्यूब में विजिट करोगे तो आपको वही डाटा दिखाई देगा जो आप कभी वहां सर्च किये थे और जो आपको चाहिए होता है। इसी तरह अप यूट्यूब में जो भी सर्च करेंगे वही सरे डाटा यूजर के according आपके यूट्यूब होम पेज में दिखाई देने लगता है ।

example 2- अपने ऐमज़ॉन और फ्लिपकार्ट में कभी ना कभी शॉपिंग किया होगा और जो आपको चाहिए होता है वही अपने सर्च करके ख़रीदा होगा तो अपने जो भी चीजें या प्रोडक्ट को सर्च करके ख़रीदा है वही सरे जानकारी वो मशीने सिखलिया है जो दूसरी बार आप अगर वहां जाओगे तो आपके पसंद के अनुसार बहुत सरे चीजें आपको आटोमेटिक दिखाई देगा जो आप बिना सर्च करके अपने काम कर पाओगे बिना कोई झंझट के।

Also Read :

ippb mobile banking registration kaise karen

SDM Full Form:SDM कैसे बने और कौन सी परीक्षा होती है।

HRMS Odisha login and registration process (HRMS Odisha)

Machine Learning future advantage

technology आजके डेट में इतना जयादा बिकास होरहा जो आप अंदाजा भी लगा नहीं पाओगे। में आपको बता दूँ की मशीने लर्निंग के उपयोग बहुत सरे जगह में होने लगा है जैसे traffic signal जो पहले cc camera में देख के सिग्नल देते थे पर अब ट्रैफिक के मशीने को बिना कोई कमांड देते हुए चलाया जाता है कियूं की वह सिखलिया है की कब कोनसा बत्ती जलना है और किस तरफ जलना है। यह concept को मेडिकल में भी अप्लाई किया गया है जो सरे काम मशीने ऑटोमेटिक करता है और घंटो के काम कुछी मिंटो में कर लेता है ,

कुछ एक्सपर्ट के कहना है की 2050 तक टेक्नोलॉजी इतना एडवांस हो जायेगा की वह अपने आप को ही अबिस्कर करने लगेगा और मेडिकल के बात करें तो उस ज़माने में मसिने वो सरे चीजें सीखगई होंगे की कोई भी मरीज़ को मिंटो में ठीक कर देंगे तब इंसान और भी अच्छे से रहे पायेगा और अपने आपको हमेसा खुसी महसूस कर पायेगा मशीने लर्निंग के मदत से।

Machine Learning के फायदे और नुकसान

हर चीज के दो पहलू होता है अच्छाई और बुराई तो आज हम मशीने लर्निंग के फायदे और नुकसान जानेंगे। मशीने लर्निंग के मदत से हर एक काम मिंटो में हो जायेगा जिसे इंसान के महत्वपूर्ण समय बच सकता है साथ ही इसकी बजसे हर एक कठिन काम भी आसान हो जायेगा उसमे कोई सक नहीं है पर इसका नुकसान भी है जिसे- कुछ टेक्निकल error के वजसे ट्रैफिक में अगर सिग्नल इधर से उधर हो जायेगा तो नजाने कितने एक्सीडेंट हो जायेगा। अगर मेडिकल में मशीने के गलत चेकिंग के वजसे डाक्टर ने आपको इलाज किया तो आपके मत भी हो सकता है ऐसे बहुत सरे रीजन है।

Machine Learning कितने टाइप के होता है।

मशीने लर्निंग कुल दो टाइप के होता है example 1- youtube,google,amazone,car,raddar  इस तरह के algorithms को एक बार सिकहाया जाता है यानि सेट करना होता है जो बाद में आटोमेटिक वह काम करने लगते है। emp 2- cnc machine,flight,इस तरह के algorithms को हर बार काम करने से पहले सरे चीजें सेट करना होता है यानि उन्हें बार बार कमांड देना होता है की यह सब करना और इस तरीके से करना। उम्मीद करता हूँ की आपको समझ में आगया होगा।

असा करता हूँ की Machine Learning के बारे में आज आपको आपको बहुत कुछ सिखने को और जानने को मिला होगा तो आपका किया खयाल है Machine Learning kiya hai के बारे में निचे कमेंट करके जरूर बताएं। इसी आर्टिकल यानि Machine Learning के बारे में कोई भी सबाल जबाब हो तो निचे जरूर कमेंट करें और साथ ही हो सके तो इसे शेयर भी करें।

Leave a Comment