घर में कौन सी तुलसी लगानी चाहिए? Ghar me kon si Tulsi Lagani Chahiye

घर में कौन सी तुलसी लगानी चाहिए रमा या श्यामा ? तुलसी लगाते समय किन नियमों का पालन करना जरूरी है!

हिंदू धर्म में तुलसी के पौधें का बहुत महत्व होता हैं।

हर घर में तुलसी का पौधा लगाना बहुत शुभ माना जाता हैं।तुलसी के जड़ या पत्तों का औषधियों में उपयोग किया जाता है।तुलसी का पौधा घर में लगाने से घर का माहौल शुद्ध होता है। जहां तुलसी का पौधा होता है वहा का वातावरण तरो ताज़ा रहता है। ये पौधा स्वास्थ्य के लिए बेहद फायदेमंद होता हैं।

हिंदू धर्म में तुलसी का पौधा धार्मिक और वैज्ञानिक दोनों ही रूप में महत्त्व रखता है।तुलसी का संबंध माता लक्ष्मी और भगवान विष्णु से माना जाता हैं। कहा जाता है की तुलसी का पौधा जिस भी घर में हो खिला हुआ हो, शुभ होता है। मुरझाया हुआ पौधा जीवन में कष्ट का सूचक होता है।

गरुण पुराण में बताया गया है की अगर मरते हुए व्यक्ति के मुंह में तुलसी का पत्र डाल दिया जाए तो इस व्यक्ति को सद्गति प्राप्त हो जाता हैं। तुलसी का पौधा कई रूपों में फायदेमंद होता है।तुलसी का पौधा भी दो होता है 1. रमा तुलसी 2 . श्यामा तुलसी
इन दोनों की अपनी अपनी महत्ता है।

जानें कौन सी तुलसी होती है शुभ

रमा तुलसी और श्यामा तुलसी दोनों ही पवित्र होती है। रमा तुलसी हो या श्यामा तुलसी हो दोनों का अपना अपना महत्त्व होता है। घर में दोनों में से कोई भी तुलसी लगा सकते है। दोनों ही शुभ होते है।
रमा तुलसी की बात करे तो इसका पत्ता गहरा हरा या हल्का होता है। इन्हें भाग्यशाली या उज्जवल तुलसी भी कहा जाता है।
श्यामा तुलसी का पत्ता कला और बैंगनी रंग का होता है। कृष्ण को श्यामा तुलसी अति प्रिय हैं।ऐसी मान्यता हैं कि मां काली और हनुमान जी को श्यामा तुलसी अति प्रिय है। इनको चढ़ना बहुत शुभ माना जाता हैं। इस तुलसी का माला पहनने से दिमाग को शांति मिलती है।

तुलसी लगाते समय इन नियमों का करें पालन :-

किन दिन लगाएं
रामा और श्यामा तुलसी लगाने का दिन होता है। हम किसी भी दिन इसको नहीं लगा सकते है। इसके लगाने का शुभ दिन कार्तिक मास के गुरुवार दिन है। किसी कारण वश आप इस दिन नहीं लगा पाए तो शुक्ल पक्ष के किसी भी गुरुवार के दिन भी ये पौधा लगा सकते है।

छत पर न रखें
तुलसी के पौधें को रखने की बात करे तो , घर के छत पर ना रखें क्योंकि ऐसा करने से वास्तु दोष लगता है। छत पर रखने से कुंडली में बुध की स्थिति कमजोर पड़ती हैं। ये कमजोर स्थिति आर्थिक परेशानियां को नाजुक बना देती है। कहते है की
छत पर तुलसी रखने से कुंडली में प्राकृतिक दोष लग जाता है। कई बार ऐसा होता है छत के अलावा कोई जगह नहीं होता है रखने का तो हम रख भी ले और वास्तु दोष भी ना लगे तो इसके लिए तुलसी के पौधें के पास केला का भी पौधा लगा दे और इन दिनों को मौली से जोड़ कर रखें।

गंदगी ना हो
रामा तुलसी हो या श्यामा तुलसी दोनों के पास गंदगी नहीं होना चाहिए। साफ सफाई का पूरा ध्यान रखें। क्योंकि इस पौधें को हिंदू धर्म में पवित्र माना जाता है। इक विशेष बात का ध्यान रखें कि तुलसी का पौधा जहां हो वहा कभी भी कोई कांटेदार वृक्ष ना लगाएं।

किस दिशा में लगाएं
पौधा चाहे कोई भी सबका लगाने का एक दिशा निर्धारित होता है। तुलसी का पौधा घर के ईशान कोण या पश्चिम दिशा में लगाना चाहिए। तुलसी का कभी भी पौधा भूल कर घर के दक्षिण दिशा में ना लगाएं। मान्यता है का तुलसी घर के हर जगह पर नहीं लग सकता है।

सूखने पर क्या करें
तुलसी का सुख जाए तो उसको हर जगह ना फेंके।हो सकें तो बहते हुए पानी में प्रवाहित करवा दे। तुलसी का सुखा हुआ पत्ता औषधियों में काम आता है।

ये भी पढ़ें: बच्चों का पढ़ाई में नहीं लग रहा है मन, ये उपाय दूर करेंगे आपकी उलझन

सावन का महीना जल्दी ही होने वाला है शुरू, देखें जुलाई के प्रमुख व्रत-त्योहार की लिस्ट

Join: HindiRise

Leave a Comment